Saturday, October 02, 2010

गांधीवाद


सि बिंगौंणा छन
गांधीवाद अपनावा
बोट देण का बाद
गांधी का तीन
बांदरूं कि तरां
आंखा-कंदुड़/ अर
मुक बुजिद्‌यावा

Source : Jyundal (A Collection of Garhwali Poems)
Copyright@ Dhanesh Kothari


Popular Posts

Blog Archive