Friday, July 01, 2011

ब्योली तैं बान दीण कु मांगळ गीत

Byoli Tain  Ban Deend Dainku Mangal : Mangal geet (Auspicious Song) of Pasting the Bride
(Garhwali Wedding Folk Songs, Himalayan Wedding folk Songs )

Presented on Internet medium  by Bhishma Kukreti

Offline Presentation by Totaram Dhoundiyal , Mangal, Dhad Prakashan , Dehradun

In Garhwali wedding , there are folk songs at each and every stage . HaldiHath or ban deen is a very important stage of wedding ceremony.  After females prepared the Turmeric and herbal paste by grinding various tubes of herbs and turmeric, the stage of ban Den comes for Bride at her home and for Groom at his home. The ban deen performance is performed in country yard (Chauk) . The Pundit jee tells the auspicious time and ask bride to sit on the flat stool of Sandan wood on which he set pooja of lord Ganesh (Ganesh sthapana) . Two girls will catch a chadar (bed sheet) above the bride and on that Chadar rice, linen seeds, juggry , pakodi, Poori ar put in a Thali (plate . Pundit jee put turmeric paste into five leave vessels  (Pudkee) with barley, linen seeds .

Then start ban den  process . ban deen means to put  the turmeric paste on the foot, on knee, on elbow, shoulders, and on head with the help of a bunch of doob leaves. First Pundit jee do Ban deen performance, then five unmarried girls (who grinded  turmeric tubes and made paste)  , the mother , then father and then the relative’s women and men do the same performance that is ban deen performance

Pundit jee  sing the chants in Sanskrit and the auspicious singers sing the following Mangal. Side by side the das play Damau and Dhol with slow a specific rhythm .

After ban deen Process, the bride takes bath without soap.


बैठ मेरी लाड़ी बैठ मेरी लाड़ी सांदणा चौकली
बैठ मेरी लाड़ी सांदणा चौकली ए

पूजा पूजा बरमा जी पूजा पूजा बरमा जी सान्दंणऐ चौकली
पूजा पूजा बरमा जी सान्दंणऐ चौकली ए

कै द्यावा बरमा जी कै द्यावा बरमा जी रक्छा बंधन
कै द्यावा बरमा जी रक्छा बंधन ए
पैलू क बांदा  पैलू क बांदा बरमा सुबाला
पैलू क बांदा बरमा सुबाला ए
बरमा सुबाला बरमा सुबाला आशीष द्याला
बरमा सुबाला आशीष द्याला ए

न्यडु आई जावा न्यडु आई जावा पांच कनियाँ
न्यडु आई जावा पांच कनियाँ ए

पांच कनियाँ  पांच कनियाँ तिलक लगाली
पांच कनियाँ तिलक लगाली ए

तिलक लगाली तिलक लगाली रक्षा बांधली
तिलक लगाली रक्षा बांधली ए
के केका कनियाँ के केका कनियाँ बांदा सुबैली
के केका कनियाँ बांदा सुबैली ए
पायूँ का बांदा पायूँ का बांदा सिर मा सुबैली
पायूँ का बांदा सिर मा सुबैली ए

हळीद म्न्जीठा का हळीद म्न्जीठा का बांदा सुबौला
हळीद म्न्जीठा का बांदा सुबौला ए

जी रयाँ कनियाँ जी रयाँ कनियाँ सदा रैं अमर
जी रयाँ कनियाँ सदा रैं अमर ए

न्यडु आई जावा न्यडु आई जावा जाजमती नारी
न्यडु आई जावा जाजमती नारी  ए

जाजमती नारी जाजमती नारी तिलक लगाली
जाजमती नारी तिलक लगाली ए

तिलक लगाली तिलक लगाली रक्षा बांधली
तिलक लगाली रक्षा बांधली ए

पायूँ का बांदा पायूँ का बांदा सिर मा सुबैली
पायूँ का बांदा सिर मा सुबैली  ए
जाजमती नारी जाजमती नारी सदा रैं स्वागीण
जाजमती नारी सदा रैं स्वागीण ए

न्यडु आई जावा न्यडु आई जावा माजी सुनैना
न्यडु आई जावा माजी सुनैना ए

मा जी सुनैना मा जी सुनैना तिलक लगाली
मा जी सुनैना तिलक लगाली ए

बेटी सीता की बेटी सीता की रक्षा बांधली
बेटी सीता की रक्षा बांधली ए

दे द्यावा मांजी दे द्यावा माजी दै दुबला बांन्द
दे द्यावा माजी दै दुबला बांन्द ए
पंचांगी बांदा पंचांगी बांदा शिरमा सुबाली
पंचांगी बांदा शिरमा सुबाली  ए

जी रयाँ मांजी जी रयाँ मांजी सदा स्वागीण
जी रयाँ मांजी सदा स्वागीण  ए

जौन तुमन जौन तुमन जलम सुधारी
जौन तुमन जलम सुधारी  ए

तू मेरी कनिया तू मेरी कनिया सदा रै स्वागीण
तू मेरी कनिया सदा रै स्वागीण  ए

सदा रै स्वागीण सदा रै स्वागीण सदा रै अमर
सदा रै स्वागीण सदा रै अमर  ए

न्यडु आई जावा  न्यडु आई जावा पितैजी जनक
न्यडु आई जावा पितैजी जनक  ए

पितैजी जनक पितैजी जनक तिलक लगाला
पितैजी जनक तिलक लगाला  ए

तिलक लगाला तिलक लगाला रक्षा बांधला
तिलक लगाला रक्षा बांधला ए

दे द्यावा पितैजी दे द्यावा पितैजी हळदि का बान
दे द्यावा पितैजी हळदि का बान ए

जी रयाँ पितैजी जी रयाँ पितैजी सदा अमर
जी रयाँ पितैजी सदा अमर ए

जौन तुमन जौन तुमन जनम सुधार
जौन तुमन जनम सुधार ए

दे द्यावा ममा जी दे द्यावा ममा जी पंचरंगी बांदा
दे द्यावा ममा जी पंचरंगी बांदा  ए

जी रयाँ ममाजी जी रयाँ ममाजी लाख बरस
जी रयाँ ममाजी लाख बरस ए

दे द्यावा मामिजी दे द्यावा मामिजी स्वाग्वन्ती बान
दे द्यावा मामिजी स्वाग्वन्ती बान ए

दे द्यावा बोडिजी दे द्यावा बोडि जी हळदि का बान
दे द्यावा बोडि जी हळदि का बान ए

बोडिजी हमारि बोडि जी हमारि बांदा सुबाली
बोडि जी हमारि बांदा सुबाली ए

दे द्यावा बड़ा जी दे द्यावा बड़ा जी दै दुबला बान
दे द्यावा बड़ा जी दै दुबला बान ए

दे द्यावा चची जी दे द्यावा चची जी दै दुबला बान
दे द्यावा चची जी दै दुबला बान ए

दे द्यावा काका जी दे द्यावा काका जी हळदि का बान
दे द्यावा काका जी हळदि का बान ए

न्यडु आवा न्यडु आवा पीठी क भाई
न्यडु आवा पीठी क भाई ए

पीठि क भाई पीठि क भाई तिलक लगाल़ा
पीठि क भाई तिलक लगाल़ा ए

पीठि क बैणि पीठि क बैणि तिलक लगाली
पीठि क बैणि  तिलक लगाली ए

तिलक लगाली तिलक लगाली रक्षा बांधली
तिलक लगाली रक्षा बांधली ए

जी रयाँ अमर जी रयाँ अमर भै बैणयूँ जोड़ी
जी रयाँ अमर भै बैणयूँ जोड़ी ए

Popular Posts

Blog Archive